मिश्र धातु निगम लिमिटेड

एक सार्वजनिक क्षेत्र का उद्यम

CIN L14292TG1973GOl001660

अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक का संदेश

प्रिय शेयरधारकों,

मिश्र धातु निगम लिमिटेड की 46 वीं वार्षिक महा सभा (एजीएम) में आप सभी का स्वागत करते हुए मैं गौरवान्वित हूँ। मुझे अपार हर्ष हो रहा है। 1 मई, 2020 को अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक के रूप में पदभार संभालने के बाद यह मेरा पहला अवसर है कि मैं आप सभी से इस एजीएम में मिल रहा हूँ। यह मेरा सौभाग्य है कि मैं आपके समक्ष वित्त वर्ष 2019-20 की वार्षिक रिपोर्ट प्रस्तुत कर रहा हूँ। इन छियालीस (46) वर्षों में MIDHANI ने रक्षा के अलावा अंतरिक्ष और ऊर्जा जैसे सामरिक क्षेत्रों में विश्वास के न केवल बीज रोपे हैं बल्कि उसे एक महावृक्ष के रूप में उगाया है। मैं आपको आश्वस्त कर सकता हूं कि हमारी सफलता के आधार रहे हमारे मूल्य और नेतृत्व के सिद्धांत भविष्य में भी हमारे कार्यों और निर्णय लेने की क्षमता को बढ़ाएँगे और हमारा मार्गदर्शन करते रहेंगे।

वित्त वर्ष 2019-20 की सफलता देखते हुए मैं विश्वास के साथ कह सकता हूँ कि हमने कोविद-19 महामारी से प्रभावित होने पर भी काफी सफल वर्ष रहा है। इस महामारी ने दुनिया भर के उद्योगों को एक नई प्रकार की वास्तविक स्थिति से अवगत कराया है। दुनिया आज कोविद-19 महामारी के प्रभाव में ग्रसित है। सरकारें, स्वास्थ्य देखभाल प्रणाली और व्यवसाय एक जुट होकर इस वायरस से प्रभावित स्वास्थ्य, सामाजिक और आर्थिक प्रभाव से निपटने की कोशिश कर रहे हैं। इससे वैश्विक आपूर्ति श्रृंखला, खपत, यात्रा और पर्यटन बुरी तरह बाधित हो गए हैं।

भारत को आत्मनिर्भर बनाने के लिए प्रधान मंत्री द्वारा आरंभ किए गए ‘आत्मनिर्भर भारत अभियान’ से उपजे अवसरों को क्रियान्वित करने के लिए कठिन परिस्थिति के बावजूद, मिधानि तत्परता से तैयार है। यह अभियान हमें अपनी तकनीकी क्षमताओं का अपेक्षाओं के अनुरूप उपयोग करके नए उत्पादों और बाजारों की तलाश करने का अवसर प्रदान करेगा और नए व्यवसायों में विविधता लाकर हमारी पहुंच का विस्तार भी करेगा।

वित्त वर्ष 2019-20 में प्रदर्शन की सुर्खियाँ:

आपकी कंपनी के वित्त वर्ष 2019-20 के दौरान प्राप्त विकास और उपलब्धियों की सुर्खियों पर प्रकाश डालते हुए मुझे बहुत खुशी हो रही है। प्रदर्शन के लिहाज से मिधानि ने वित्त वर्ष 2019-20 के लिए अपने उच्चतम मूल्य उत्पादन (वीओपी), निर्यात बिक्री, कर से पहले लाभ और लाभांश भुगतान को दर्ज किया।.

वित्त वर्ष 2018-19 की तुलना में इस वर्ष ₹ 97,011 लाख उत्पादन मूल्य (वीओपी) के साथ 19% की प्रभावशाली वृद्धि दर्ज की गई है। साथ ही, हमने ₹ 20,209 लाख के कर से पहले उच्चतम लाभ भी प्राप्त किया है, जो कि वित्त वर्ष 2018-19 की तुलना में 5.8% की वृद्धि है जिसमें ₹ 16,565 लाख का अब तक का उच्चतम परिचालन लाभ भी शामिल है। बिक्री की स्थिति पर यहाँ यह कहना उचित होगा कि मार्च के अंत में लॉकडाउन की बिक्री प्रभावित होने के बावजूद हमने ₹ 71,288 लाख की बिक्री दर्ज की है जो वित्त वर्ष 2018-19 के लिए दर्ज ₹ 71,085 लाख की बिक्री के समान स्तर पर है।.

29.4% की वृद्धि के साथ आपकी कंपनी का निर्यात कारोबार ₹ 1,042 लाख रहा। हमें यह साझा करते हुए भी खुशी  हो रही है कि वित्त वर्ष 2019-20 के लिए आपकी कंपनी ने शेयर 2.56 प्रति इक्विटी शेयर की दर से ₹ 2.56 के लाभांश (₹ 1 अंतरिम और ₹1.56 अंतिम लाभांश) की घोषणा की है।.

इसके अलावा, वित्त वर्ष 2019-20 के दौरान मिधानि ने इसरो ‘गगनयान’ के प्रतिष्ठित मानव अंतरिक्ष उड़ान कार्यक्रम के लिए अल्ट्रा हाई स्ट्रेंथ स्टील और कोबाल्ट मिश्र धातु की पहली खेप की आपूर्ति की है। लॉकडाउन के दौरान, आपकी कंपनी ने 99.6% की शुद्धता के साथ 0.16 मिमी के 1.5 किलो निकेल वायर का विकास कर आपूर्ति की है। इसका उपयोग कोविद​​-19 के रोगियों के लिए भारत इलेक्ट्रॉनिक्स लिमिटेड (बीईएल) द्वारा निर्मित “क्रिटिकल कोर वेंटीलेटर” से संबंधित ऑक्सीजन सेंसर में किया जाता है। यह ऑक्सीजन सेंसर का अत्यावश्यक हिस्सा है।.

क्षितिज का विस्तार: भविष्य की ओर अग्रसर मिधानि

सरकार की पहल के अनुरूप, प्रमुख ध्यान स्वदेशीकरण, नए उत्पाद विकास और प्रौद्योगिकी विकास पर रखा गया है। भारत को आत्मनिर्भर बनाने और विशेष रूप से रक्षा और ऊर्जा क्षेत्रों में निर्यात बढ़ाने के लिए सरकार की पहल का अनुसरण करते हुए आपकी कंपनी अपने महत्वाकांक्षी लक्ष्यों को तेज गति प्रदान करती है। वैश्विक स्तर पर और जिन प्रमुख क्षेत्रों में हम सेवा प्रदान कर रहे हैं जैसे- रक्षा विनिर्माण, एयरोस्पेस, तेल एवं गैस में सुपर मिश्र धातु का बाजार बढ़ने की उम्मीद है। ये सभी अपने-अपने क्षेत्र में विकास के लिए तैयार हैं और हमें पूरी उम्मीद है कि हम उन्हें हमारी महत्वाकांक्षी विकास योजनाओं से जोड़ने में सफल होंगे। हाल के वर्षों में आपकी कंपनी ने प्रमुख सार्वजनिक उपक्रमों और विश्वविद्यालयों के साथ संधी करके अनुसंधान कार्यक्रम आरंभ किए हैं। हमारे पास सशक्त अनुसंधान एवं विकास तथा एकीकृत सुविधाएं उपलब्ध हैं। इसके अलावा हमारे पास बेहतर प्रक्रिया प्रौद्योगिकियों की विविधता भी है जो कि व्यवस्थित रूप से विभक्त है। जिस कराण से विभिन्न क्षेत्रों में हम विकास के लिए तैयार हैं।.

रोहतक में हमारा शरीर और वाहन के लिए आर्मर संयंत्र स्थानीय और वैश्विक मांग पर ध्यान केंद्रित करेगा। मिधानि का लक्ष्य है कि मूल्य श्रृंखला के उच्च अंत्य लक्षित उत्पादों का विकास करें। इसे ही ध्यान में रखते हुए उच्च अंत्य एल्यूमीनियम मिश्र धातु का निर्माण करने के लिए वित्त वर्ष 2019-20 के दौरान, “उत्कर्ष एल्युमिनियम धातु निगम लिमिटेड ”, के नाम से आंध्र प्रदेश के नेल्लोर में नेशनल एल्युमीनियम कंपनी लिमिटेड (नाल्को) के साथ संयुक्त उद्यम को निगमित किया गया है।.

अभिनव मानसिकता और मूल्य सृजन का संवर्धन:

मेक इन इंडिया विजन के तहत समय की मांग के अनुसार हमें प्रतिस्पर्धा, उच्च गुणवत्ता वाले विविध उत्पादों और कम वितरण की अवधि पर ध्यान केंद्रित करना होगा। हमारे गौरवशाली अतीत के आधार पर मुझे विश्वास है कि हम अपनी औद्योगिक शक्ति को संरक्षित कर सकते हैं और अपनी उत्पादन क्षमताओं का उपयोग करके अपने देश को राष्ट्रीय महत्व की महत्वपूर्ण सामग्रियों की आपूर्ति में आत्मनिर्भर बना सकते हैं। आपकी कंपनी का महत्वपूर्ण ध्यान अनुसंधान एवं विकास पर और सशक्त प्रतिस्पर्धी होने के लिए तकनीकी प्रगति के साथ- साथ नवाचार की संस्कृति पर केंद्रित है। मिधानि ने वर्ष के दौरान संबंधित अनुप्रयोगों के लिए विशेष इस्पात, सुपर मिश्र धातु और टाइटेनियम मिश्र धातु में 3 पेटेंट हासिल किए हैं। आपकी कंपनी ने वित्त वर्ष 2019-20 में अनुसंधान एवं विकास पर ₹ 797 लाख रुपये का व्यय किया है। आपकी कंपनी ने ऊर्जा, अंतरिक्ष और रक्षा क्षेत्र में अनुप्रयोग के लिए 10 नए उत्पादों का विकास, 7 नए विनिर्माण और तकनीकी प्रक्रिया विकसित की है।.

सामाजिक स्थिरता के लिए प्रणालियाँ:

आपकी कंपनी दृढ़ता से विश्वास करती है कि समाज में धन का समान वितरण होना चाहिए। इसीलिए कंपनी ने सीएसआर के अंतर्गत विभिन्न योजनाएँ आरंभ की हैं। समीक्षाधीन वर्ष के दौरान, कंपनी ने लोगों के स्वास्थ्य, स्वच्छता, शिक्षा, खेल, कौशल विकास की पहल के माध्यम से समाज के विभिन्न स्तर के लोगों तक पहुंच बढ़ाई है। वित्त वर्ष 2019-20 के दौरान, कंपनी ने सीएसआर गतिविधियों के लिए ₹ 395 लाख खर्च किए हैं जो अब तक का सबसे अधिक होने के साथ ही यह संवैधानिक अपेक्षाओं से भी अधिक व्यय है।.

स्वास्थ्य सेवा, स्वच्छता, शिक्षा और कौशल विकास को बढ़ावा देने के कंपनी के विशेष सीएसआर कार्यक्रमों ने समाज में सकारात्मक परिवर्तन लाने में सफलता प्राप्त की है। इनसे स्कूली शिक्षा, स्वच्छता और स्वास्थ्य देखभाल सुविधाओं के क्षेत्र में महत्वपूर्ण विकास देखा गया है।.

प्रतिभा प्रबंधन:

आपकी कंपनी नियोजित प्रतिभा के विकास और प्रोत्साहन के लिए पूरी तरह से प्रतिबद्ध है। सभी के सामाजिक, आर्थिक और व्यावसायिक विकास के लिए तत्पर भी है। मिधानि के लिए अपने कार्यबल के स्वास्थ्य और सुरक्षा हमेशा सर्वोपरि रहे हैं। कोविद-19 महामारी में हमने परीक्षण मापदंडों से लेकर संपर्क अनुरेखण तक, सामाजिक दूरियों के मानदंडों की निगरानी, ​​कर्मचारी जोखिम स्तरों को वर्गीकृत करने और उचित स्वास्थ्य संबंधी सुविधाएं प्रदान करने जैसे कार्य किए हैं।.

वित्त वर्ष 2019-20 के दौरान कर्मचारी कल्याण की कई कार्यक्रम आरंभ किए गए। कंपनी में सभी स्तरों पर महिला कर्मचारियों का सशक्तीकरण करते हुए उन्हें अपनी क्षमता से अवगत कराने के लिए पुरुष सहयोगियी कर्माचरियों के समान अवसर प्रदान किए गए। उन्हें अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने के लिए प्रेरित किया गया। वित्तीय वर्ष 2019-20 में आपकी कंपनी ने प्रशिक्षण के क्षेत्र में सबसे अधिक मानव कार्य दिवस प्राप्त किया जो कुल 4703 रहा। इसके तहत संगठन के सभी स्तरों के कर्मचारियों को शामिल किया गया है। दोनों आंतरिक और बाहरी प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित किए गए, जिनमें वरिष्ठ कार्यकारी प्रशिक्षण कार्यक्रमों के लिए विदेशी प्रायोजन भी शामिल हैं।.

नैगमिक प्रशासन कार्यपद्धति:

मिधानि समय-समय पर सार्वजनिक उद्यम विभाग द्वारा जारी किए गए दिशानिर्देश से संबंधित पत्र और उसमें निहित भाव दोनों का पालन करता है। नैतिकता का अत्यधिक महत्व है। बोर्ड और वरिष्ठ प्रबंधन वार्षिक आधार पर आचार संहिता के निर्देशों के पालन की पुष्टि करते हैं। हमें यह बताते हुए खुशी हो रही है कि आपकी कंपनी ने सीपीएसई के लिए संशोधित ग्रेडिंग मानदंड के अनुसार 100% अंक अर्जित किए हैं। ये अंक डीपीई द्वारा दिए गए हैं जो उनके ही द्वारा जारी किए गए नैगमिक प्रशासनिक दिशानिर्देशों के अनुपालन के आधार पर प्रदान किए गए हैं।.

आपकी कंपनी और उसके नेतृत्व ने 2019-20 के दौरान कई पुरस्कार हासिल किए हैं।  विशेष रूप से अगस्त 2019 में आईबीसी मीडिया यूएसए द्वारा ‘मोस्ट ट्रस्टेड कंपनी 2019’, एक प्रमुख परियोजना के लिए स्कोच ग्रुप द्वारा ‘गोल्ड अवार्ड फॉर कॉर्पोरेट एक्सीलेंस’ और स्थायी विकास, संपत्ति सृजन तथा प्रदर्शन के लिए प्रतिभाशाली वरिष्ठ प्रबंधन को कई व्यक्तिगत नेतृत्व पुरस्कारों से सम्मानित किया गया।.

निष्कर्ष:

बोर्ड की ओर से, मैं अपने सभी सम्मानित शेयरधारकों के प्रति आभार व्यक्त करना चाहूँगा कि उन्होंने हमारी क्षमताओं और हमारे काम के प्रति अपनी प्रतिबद्धता और विश्वास प्रकट किया है। मुझे विश्वास है कि आपने जो हमारे प्रति श्रद्धा और विश्वास दिखाया है, उसके बल पर हम आगे की यात्रा में बड़े कदम उठाते रहेंगे और एक मूल्यवान राष्ट्रीय संस्थान का निर्माण करते रहेंगे।.

कोई भी कंपनी अपने प्रतिभावान कर्मचारियों के बिना कुछ भी नहीं है। मैं उन सभी कर्मचारियों की पीढ़ीयों के प्रति भी आभार व्यक्त करता हूँ जिन्होंने लगातार आपकी कंपनी में अपने समय, समर्पण और ईमानदारी के साथ सेवा प्रदान की है और इसकी उन्नति में योगदान दिया है।.

पने ग्राहकों, रक्षा उत्पादन विभाग और विशेष रूप से केंद्र, राज्य और स्थानीय निकायों के सभी सरकारी एजेंसियों से हमें हमेशा बहुत सद्भाव और समर्थन प्राप्त होता है। मैं उन्हें भी हार्दिक धन्यवाद देना चाहूँगा कि उन्होंने कंपनी प्रबंधन में विश्वास प्रकट किया, अपने मूल्यवान मार्गदर्शन से इसे आगे बढ़ाया और आवश्यकता के अनुसार  सहायता प्रदान की।.

सभी को बहुत-बहुत धन्यवाद,

जय हिंद!!

डॉ. एस. के. झा
अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक